बेबाक हस्तक्षेप

“यदि तोर डाक शुने केऊ न आसे
तबे एकला चलो रे।
एकला चलो, एकला चलो, एकला चलो रे!”

रविन्द्रनाथ टैगोर ने ये पंक्तियां भले ही सकारात्मक भाव से लिखी हो, लेकिन देश के वर्तमान सियासी हालात इशारा करते हैं कि सियासी अकड़ ने अपने सामने सबको नतमस्तक करते हुए ‛अकेले’ चलने की ठान ली है। धर्म से लेकर अर्थ तक हर तरफ हालात ‛हठ’ से हारते दिख रहे हैं और जानकारों-विशेषज्ञों की राय को ताक पर रख फैसले लिए जा रहे हैं। परिणाम, रघुराम राजन तो कभी उर्जित पटेल के इस्तीफे के रूप में सामने आ जाता है।
फिर भी, इतिहास गवाह है कि सत्ता हमेशा मद में चूर रही है और आज भी वही हो रहा है। सत्ता हमेशा पूंजीपतियों के साथ खड़ा रहा है। इतना ही नहीं कॉरपोरेट के हित में नीतियां बनाईं गई हैं और उन्हें फायदा पहुंचाने के लिए नियम भी ताक पर रखे गए हैं, पर पहली बार संस्थाओं और सरकार के बीच की तनातनी खुलकर सामने आ रही है और सही-गलत के बीच की खाई पटती दिख रही है। खबरे तो यहां तक आई कि सरकार आरबीआई के खजाने में पड़ी जमा राशि में बड़ा हिस्सा चाहती थी। हालांकि, सरकार ने इन सब बातोँ को नकारा। बीच में ऐसा लगा कि सरकार और आरबीआई के बीच सबकुछ ठीक हो गया, तभी तीन राज्यों के चुनाव परिणाम से ऐन पहले उर्जित का इस्तीफा काफी कुछ कहता है। खैर, सच चाहे जो हो, विश्लेषकों का कहना है कि उर्जित पटेल के पदत्याग से अर्थव्यवस्था पर बेहद नकारात्मक असर आने वाले दिनों में देखने को मिल सकता है। इतना ही नहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश की छवि खराब होगी। विदेशी संस्थागत निवेशक भी इसे सकारात्मक रूप से नहीं लेंगे, क्योंकि यह केंद्रीय बैंक की विश्वसनीयता का सवाल है। इसके अलावा इसका असर करेंसी और बॉन्ड मार्केट पर भी पड़ना तय माना जा रहा है। इससे अगले एक महीने में डॉलर के मुकाबले रुपया और लुढ़क सकता है।
कुल मिलाकर, केंद्रीय संस्थाओं और सरकार के बीच के बढ़ते फासले ने देश की छवि खराब करने के साथ ही आम लोगों के विश्वास को भी डिगाया है। इसका असर सियासत पर भी पड़ेगा, और तीन राज्यों के चुनाव परिणाम सबक भी होगा और संदेश भी! जिसे आलोक श्रीवास्तव के शेर से समझा जा सकता है-
“ये सोचना गलत है के’ तुम पर नजर नहीं,
मसरूफ हम बहुत हैं मगर बेखबर नहीं।”

■ सोनी सिंह

Post Author: Soni

काशी पत्रिका के जरिए हमारी भाषा, संस्कृति एवं सभ्यता को सजोने-संवारने का सतत् प्रयास।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *